मंगलवार, 5 अगस्त 2008

चांदी जैसा रंग है तेरा, सोने जैसे बाल

पंकज
चांदी जैसा रंग है तेरा, सोने जैसे बाल
एक तू ही धनवान है गोरी, बाक़ी सब कंगाल

गायक: पंकज उदास

1 टिप्पणी:

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है!