शनिवार, 23 अगस्त 2008

दिल धड़कने का सबब याद आया…(नूरजहां की आवाज़)

नूरजहां
दिल धड़कने का सबब याद आया
हो गई रात, अब याद आया………

गायिका: नूरजहां

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है!