रविवार, 28 सितंबर 2008

रमज़ान के मुबारक महीने व ईद के आगमन पर यह नात पेश है (ओवैस रज़ा क़ादरी की आवाज़ में)

आप सभी को मैं यह बताना चाहूंगा कि उर्दू भाषा में नात उस कलाम को कहते हैं जो पैग़म्बर मुहम्मद (स0) की तारीफ़ में लिखा गया हो। ईद के आगमन पर ओवैस रज़ा क़ादरी की आवाज़ में यह नात पोस्ट कर रहा हुं साथ ही आप सभी लोगों को ईद की मुबारकबाद्।
नात

आवाज़: ओवैस रज़ा क़ादरी

2 टिप्‍पणियां:

  1. सब से पहले तो ईद व रमजान की शुभकामनाएं।एक बहुत बढिया नात सुन्वानें के लिए आभार।

    उत्तर देंहटाएं

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है!