रविवार, 1 मार्च 2009

कफ़न…प्रेमचन्द

कफ़न हिन्दी ही नहीं, बल्कि भारतीय उपमहाद्वीप की बडी कहानियों में गिनी जाती है। स्वर-सृजन पर प्रेमचन्द की प्रस्तुति के क्रम में कफ़ का पाठ प्रस्तुत है।

कहानी रचनाकार:प्रेमचन्द

स्वर:मेराज अहमद

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है!