रविवार, 15 मार्च 2009

इन आंखों की मस्ती के…फ़िल्म:उमरावजान अदा

इन आंखों की मस्ती के मस्ताने हज़ारों हैं
इन आंखों बाबस्ता अफ़साने हज़ारों हैं

फ़िल्म:उमरावजान अदा

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है!