गुरुवार, 19 मार्च 2009

किसी नज़र को तेरा इंतेज़ार आज भी है…फ़िल्म:ऐतबार

किसी नज़र को तेरा इंतेज़ार आज भी है
कहां हो तुम के यह दिल बेक़रार अज भी है

फ़िल्म:ऐतबार

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

आपकी टिप्पणियों का स्वागत है!